PPF Meaning in Hindi

Public Provident Fund के बारे में पूरी जानकारी।

क्या आप शेयर बाजार की उठा पटक की वजह से उसमे निवेश करने से डरते है ?

लेकिन फिर भी आपको अपने निवेश पर अच्छा रिटर्न चाहिए ?

और क्या यह निवेश भी आपको टैक्स लाभ देने वाला चाहिए ?

तो आपके लिए निवेश का सबसे अच्छा विकल्प है ‘Public Provident Fund or PPF ‘.

Public Provident Fund क्या है ?

PPF या Public Provident Fund एक बचत करने की योजना है जो की साल 1968 में भारत सरकार ने शुरू की थी।

यह योजना सभी लम्बे समय की निवेश की योजनाओ में से सबसे ज्यादा लोकप्रिय योजना है।

इतना लोकप्रिय होने की वजह इस योजना में मिलने वाली सुरक्षा , आय कर मुक्ति और ज्यादा ब्याज है।

 

1. सुरक्षा :

यह एक डाक घर की बचत योजना है जिसकी वजह से इस योजना में निवेश की गई राशि और उसके ब्याज की 100 % गॅरंटी सरकार देती है।

जिसकी वजह से इसमें आपकी जमा राशि पर नुकसान होने का भय नहीं होता।

 

2. ज्यादा ब्याज :

इस योजना में एक बड़ा लाभ यह भी है की इस योजना के तहत अन्य कोई भी बचत की योजना से ज्यादा ब्याज मिलता है।

अभी यानि अप्रेल 2020 में इस योजना में मिलने वाला ब्याज 7.1% है जो की वार्षिक चक्रवृद्धि (yearly compounded) है।

यह ब्याज अभी के समय में बहुत अच्छा है क्युकी अभी ज्यादातर फिक्स्ड डिपाजिट का ब्याज ज्यादा से ज्यादा 5 .5% के आस पास है।

यह भी पढ़े :  National Saving Certificate के बारे में पूरी जानकारी।

यह ब्याज हर तिमाही में बदलता रहता है।

 

3. आयकर मुक्ति:

आयकर मुक्ति (Income Tax Exempt) तीसरा सबसे बड़ा लाभ है।

इस योजना में निवेश करने पर तीन तरह के टैक्स लाभ मिलते है :

Public Provident Fund


i. निवेश की गई राशि Section 80C के तहत 1.5 लाख तक की छूट मिलती है।

ii. मिला हुआ ब्याज टैक्स से मुक्त होता है।

iii. अवधि ख़त्म होने पर निकाली हुई राशि भी टैक्स मुक्त होती है।

इस तरह यह योजना EEE (Exempt Exempt Exempt) के तहत आती है।

इन मुख्य तीन लाभ के कारण यह योजना बहुत लोकप्रिय है।

अब हम इस योजना से जुड़े कुछ सवालो का जवाब जानते है।

 

Public Provident Fund में कितना निवेश कर सकते है?

इस योजना में निवेश की लघुतम राशि 500 रुपए सालाना से लेकर अधिकतम राशि 1.5 लाख रुपए सालाना है।

अगर आप 1.5 लाख से ज्यादा राशि जमा करेंगे तो आपको अधिक राशि पर कोई ब्याज नहीं मिलेगा।

आप इस योजना में हर महीने, हर तिमाही में, हर छमाही में या हर साल में भी निवेश कर सकते है।

मगर आप इस योजना में ज्यादा से ज्यादा साल में 12 बार ही निवेश कर सकते है।

 

Public Provident Fund में खाता कौन खुलवा सकता है?

इस योजना में कोई भी भारतीय नागरिक अपना खाता खुलवा सकता है।

इसमें और कोई सिमा नहीं है।

लेकिन कोई भी एक व्यक्ति अपने जीवन काल में सिर्फ एक ही PPF खाता खुलवा सकता है।

अगर आपने दूसरा खाता खुलवाया तो आपको उस पर कोई ब्याज नहीं मिलेगा।

मगर आप इस योजना में आप अपने बच्चे (Minor) का खाता खुलवा सकते है, लेकिन आपको उस खाते को संभालना होगा।

लेकिन अगर आपने अपना और किसी बच्चे (Minor) का खाता खुलवाया है तो आपको मिलने वाली कर मुक्ति 1.5 लाख x 2 ऐसे 3 लाख नहीं होगी।

इन दोनों खातों में निवेश की गई राशि को मिला कर ही 1.5 लाख की टैक्स छूट मिलेगी।

आप इस योजना में कोई Joint खाता भी नहीं खुलवा सकते।

और कोई NRI (Non Resident Indian) भी खाता नहीं खुलवा सकते।

यदि आप NRI बनने से पहले खाता खुलवा चुके है तो आप इसे निवेश की अवधि (15 साल तक) चला सकते है।

NRI अपने खाते की अवधि बढ़ा नहीं सकते।

5 साल के लिए निवेश की अवधि बढ़ाने की सुविधा उनके लिए नहीं है।

HUF भी इसमें खाता नहीं खुलवा सकते।

 

PPF में खाता कैसे खुलवा सकते है ?

यह एक डाक घर की योजना है इस लिए आप PPF का खाता अपने नजदीकी डाक घर में जा कर खुलवा सकते है।

यह योजना है तो डाक घर की लेकिन इस कहते को खोलने की सुविधा बहुत सी अधिकृत बैंक भी देती है।

जिनमे सभी सरकारी बैंक तथा कुछ बड़ी निजी बैंक जैसे ICICI , HDFC , AXIS Bank जैसी कई बैंक सामिल है।

यह खता आप दो तरीको से खुलवा सकते है : 1. Offline डाक घर या बैंक में जा कर,

2. Online किसी बैंक के जरिए

 

1. Offline डाक घर या बैंक में जा कर :


यह पुराना तरीका है और जो लोग ऑनलाइन खाता नहीं खुलवा सकते उन के लिए अच्छा तरीका है।

इसके लिए आपको अपनी नजदीकी बैंक या डाक घर में जाना होगा।

वहा जा कर आपको एक Form A भरना होगा जो की इस योजना में खाता खोलने का आवेदन फॉर्म है।

इसके साथ आपको अपने कुछ फोटो की जरुरत पड़ेगी।

अपना Id Proof और Address Proof भी चाहिए होगा।

इन सभी कागज को जमा करने के बाद आपको इस खाते की Passbook दे दी जाएगी।

जिसमे इस खाते से जुडी आपकी सारी जानकारी होगी।

 

2. Online किसी बैंक के द्वारा :

इस तरीके से आप घर बैठे भी अपना PPF का खाता खोल सकते है।

लेकिन इसके लिए आपका PPF के लिए अधिकृत बैंको में से किसी में खाता होना चाहिए।

तथा आपका आधार कार्ड और मोबाइल नंबर उस बैंक से लिंक होना चाहिए।

और आपके खाते में Net-banking शुरू होना चाहिए।

खाता खोलने के लिए अपने नेट बैंकिंग के द्वारा बैंक की वेबसाइट पर लोग इन कीजिए।

जैसे आपका लोग इन हो जाएगा , आपके सामने कही पर Public Provident Fund का विकल्प आएगा।

उस विकल्प में जा कर आपसे मांगी गई जानकारी भर दे। कुछ जानकारी पहले से ही भरी हुई होंगी।

उसे छोड़ कर बाकि सभी जानकारी जैसे आपके नॉमिनी की जानकारी , निवेश की राशि भर दे ।

बाद में सभी जानकारी सही है या नहीं ये चेक कर के कन्फर्म पर क्लिक कर दे।

इस के बाद आपको अपने मोबाइल नंबर पर मैसेज के जरिए जानकारी मिल जाएगी।

इस तरह आपका खाता एक दिन में खुल जाएगा।

एक बार आपका PPF का खाता खुल जाने के बाद आप अपने बचत खाते में से पैसा ट्रांसफर कर सकते है।

यह भी पढ़े : Atal Pension Yojana Hindi में पूरी जानकारी।

 

इस योजना में कितने समय तक निवेश करना होगा ?

यह योजना 15 साल के लॉक इन समय की है मतलब की आपकी इस योजना में निवेश की अवधि कम से कम 15 साल होगी।

यह अवधि पुरे 15 वित्तीय वर्ष की होगी।

अगर आपने वित्तीय वर्ष 2019 के अगस्त महीने में अपना खाता खुलवाया है, तो आपको अगले वित्तीय वर्ष यानि 2020 से पुरे 15 वित्तीय वर्ष तक निवेशित रहना होगा।

इस वजह से आपकी निवेश की अवधि 15 साल और 6 महीने हो जाएगी।

चिंता न करे। इन 6 महीने का भी आपको ब्याज मिलेगा ही।

निवेश की अवधि ख़त्म होने के बाद आप इसे 5 साल के लिए बढ़ा भी सकते है।

फिर वह 5 साल ख़त्म होने के बाद भी आप और 5 साल की अवधि बढ़ा सकते है।

ऐसा आप जितनी बार चाहे उतनी बार कर सकते है।

मगर इस के लिए आपको निवेश की अवधि ख़त्म होने के एक साल पुरे होने से पहले Form H भरना होगा।

बढ़ी हुए निवेश की अवधि के दौरान भी आपको सभी तरह के टैक्स लाभ मिलेंगे।

मतलब आपने अपनी निवेश की अवधि ख़त्म होने के बाद और और 5 साल निवेश की अवधि बढ़ा दी तो आपको पुरे 20 साल तक टैक्स छूट मिलेगी।

 

अच्छे ब्याज के लिए कब करे निवेश ?

अगर आप हर महीने इस खाते में निवेश करते है तो हर महीने की 1 से 5 तारीख तक इस में निवेश कर दे।

क्युकी इस योजना में महीने के निवेश पर डाक घर में उसी राशि पर ब्याज गिना जाता है जो की महीने की 5 तारीख से लेकर आखरी तारीख तक की न्यूनतम राशि हो।

Public Provident Fund


अगर आप 5 तारीख बाद निवेश करेंगे तो वह राशि अगले महीने में गिनी जाएगी।

इस लिए अगर आप हर माह निवेश करते है तो हर महीने 5 तारीख से पहले निवेश कर दे।

अगर आप हर तिमाही में निवेश करते है तो आप हर तिमाही में पहले महीने की 5 तारीख तक राशि जमा कर दे।

निवेश की अवधि 6 मासिक है तो हर 6 महीने में से पहले महीने की 5 तारीख तक निवेश कर दे।

अगर आप हर साल निवेश करते है तो हर साल अप्रैल महीने की 5 तारीख तक ही पैसा निवेश कर दे।

ऐसे निवेश करने पर आपको अच्छा ब्याज मिलेगा।

 

अगर में समय अवधि के दौरान निवेश नहीं कर पाया तो क्या होगा ?

अगर किसी वजह से आप तय की गई राशि किसी एक पुरे साल तक नहीं भर पाए तो आपका खाता inactive हो जाएगा।

जिसे बाद में आप जितने साल नहीं भर पाए उतने साल की राशि और 50 रुपए प्रति साल की पेनल्टी भर कर चालू करवा सकते है।

अगर आपकी निवेश की राशि सालाना 500 रुपए है और आप 3 साल तक निवेश नहीं कर पाए ,

तो आपको 1500 निवेश की राशि और 150 रुपए पेनल्टी भरनी पड़ेगी।

जिसके बाद आपका खाता फिर शुरू हो जाएगा।

 

क्या Maturity से पहले खाते में से पैसे निकाले जा सकते है ?

जी नहीं। सामान्य संजोगो में 15 साल पुरे होने से पहले पैसे नहीं निकले जा सकते।

मगर कुछ स्थितिओ में इस में से पैसे निकल सकते है।

 

किन स्थितिओ में अवधि ख़त्म होने से पहले पैसा निकाल सकते है ?

अगर निवेश की अवधि के दौरान निवेशक की मौत हो जाए ,तो उसका नॉमिनी इस खाते को बंध करवा के पूरा पैसा निकाल सकता है।

इस पर उसे कोई पेनल्टी नहीं भरनी पड़ेगी।

अगर निवेशक या किसी घर के सदस्य को कोई गंभीर बीमारी हो जाती है तो भी वह पैसा निकाल सकते है।

निवेशक द्वारा खोले गए अपने बच्चे (Minor) का खाता बच्चे की उच्च शिक्षा के लिए बंध करवा सकता है।

लेकिन इन संजोगो में आपको बच्चे के एडमिशन जहा भी हुवा हो वहा की एडमिशन और फीस के प्रमाण देना होगा।

इन दोनों संजोगो में आपको मिले हुए ब्याज में से 1 % कम ब्याज मिलेगा।

मतलब अगर आपको मिलने वाला ब्याज 7.1% है तो आपको सिर्फ 6.1% ब्याज के हिसाब से ही पैसे मिलेंगे।

यह पैसे आप तभी निकाल सकते है जब आपके निवेश के कम से कम 5 साल ख़त्म हो गए हो।

यह भी पढ़े :  NPS in Hindi (National Pension System)

 

PPF के खाते के आधार पर लोन भी ले सकते है।

अगर आपको जरुरत है तो आप इस योजना में निवेश के 3 वित्तीय वर्ष ख़त्म होने से ले कर 7 में वित्तीय वर्ष तक लोन भी ले सकते है।

यह लोन आपको निवेश के पिछले वित्तीय वर्ष में जो राशि जमा हुई है उसके सिर्फ 25 % तक की ही मिल सकती है।

अगर आपने इस साल लोन के लिए आवेदन किया है और पिछले वित्तीय वर्ष तक आपकी जमा राशि कुल 1 लाख है तो आप 25 हजार तक की लोन ले सकते है।

इस लोन में आपको ब्याज अपने खाते में मिल रहे ब्याज से 2 % ज्यादा चुकाना होगा।

अभी Public Provident Fund में मिलने वाला ब्याज 7.1% है।

अगर आप अभी लोन लेते है तो आपको 9.1% का ब्याज का ब्याज चुकाना पड़ेगा।

यह लोन आपको 3 साल में वापिस चुकानी पड़ेगी।

अगर नहीं चूका पाए तो आपको 2 % के बदले 6 % की बढ़ोतरी यानि 13.1% का ब्याज देना पड़ेगा।

एक वित्तीय वर्ष में सिर्फ एक बार ही लोन ले सकते है।

 

क्या मुझे PPF में निवेश करना चाहिए ?

Public Provident Fund के खाते में मिलने वाला ब्याज बहुत ही अच्छा है , लेकिन निवेश की अवधि 15 साल है।

इस लिए अगर आप शेयर बाजार में उठा पटक का सामना नहीं कर सकते तो आपको PPF में अवश्य ही निवेश करना चाहिए।

और अगर आप किसी फिक्स्ड इनकम के विकल्प में भी निवेश करना चाहते है, तो भी आप इस योजना में निवेश कर सकते है।

उम्मीद करता हु दोस्तों की में आपको ‘Public Provident Fund‘ के बारे में अच्छे से समझा पाया हु।

अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे अपने Social Media में Share जरूर करे।

अगर आप शेयर बाज़ार से जुड़ी एसी ही जानकारी की Update free मे चाहते है, तो नीचे दिए गए Blue Color के (Subscribe to Updates) के Button को Click करके जो स्क्रीन खुलेगी उसमे yes का विकल्प select कर दीजिए।

By Gaurav

Gaurav Popat एक निवेशक, ट्रेडर और ब्लॉगर है, जो की शेयर बाज़ार मे बहुत रुचि रखता है। वह साल 2015 से शेयर बाज़ार मे है। पिछले 7 साल मे खुद अलग अलग जगह से सीख कर और अनुभव के आधार पर शेयर बाज़ार और निवेश के विषय मे यहा पर जानकारी देता है।