Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi
किसी भी माता पिता के लिए अपने बच्चो की पढाई और उनकी शादी सबसे बड़ा अवसर होता है।

इस अवसर के लिए बहुत समय पहले ही वह पैसा इकठ्ठा करना शुरू कर देते है।

खासकर बेटी की पढाई और शादी के लिए तो कुछ लोग उसके जन्म होने के समय से ही पैसा इकठ्ठा करते है।

लेकिन आज भी बहुत सारे ऐसे लोग भी है जो की अपनी आर्थिक स्थिति अच्छी न होने की वजह से उनकी बेटी की पढाई या फिर शादी का खर्च नहीं उठा पाते।

इस समस्या को सुलझाने और लोग अपनी बेटी के लिए शुरू से ही पैसे जमा करे इसके लिए भारत सरकार ने एक छोटी बचत योजना की शुरुआत की है।

यह योजना है ‘Sukanya Samriddhi Yojana‘ .

अगर आप कोई 10 साल या उस से छोटी बच्ची के माता – पिता या गार्जियन है, तो इस योजना के बारे में आपको जरूर जान ना चाहिए।

अगर आप यह दोनों ही नहीं है, तो आप इस योजना की जानकारी किसी 10 साल या उस से छोटी बच्ची के माता पिता या गार्जियन को दे सकते है।

जीस से उस बच्ची को इसका लाभ मिल सके।

 

Table of Contents

सुकन्या समृद्धि योजना है क्या ? (Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi)

यह एक छोटी बचत योजना  है।

Sukanya Samriddhi Yojna in Hindi

भारत सरकार ने 21 जनवरी 2015 को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के तहत बेटिओ की समृद्धि के लिए Sukanya Samriddhi Yojana  की शुरुआत की थी।

 

इस योजना में कौन खाता खुलवा सकता है ?

इस योजना में कोई भी 10 साल या उस से छोटी बेटी के माता पिता या उसके गार्जियन उस बेटी के नाम से खाता खुलवा सकते है। उसके लिए जरुरी है की वह बेटी भारत की नागरिक हो। सिर्फ यह दो ही शर्त है। Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

 

निवेश कितना करना होगा ?

इस योजना में आप कम से कम साल के 250 रुपए से निवेश कर सकते है।

250 रुपए के बाद अतिरिक्त राशि 100 रुपए के गुणक में निवेश करनी होगी।

न्यूनतम निवेश राशि पहले 1000 रुपए थी जो 6 जुलाई 2018 के बाद 250 रुपए कर दी गई है।

इसकी जानकारी यहाँ से प्राप्त करे : न्यूनतम राशि

अधिकतम निवेश साल  के 1.5 लाख रुपए तक ही किया जा सकता है।

 

क्या में हर महीने निवेश कर सकता हु ?

 

जी हा। यह निवेश आप हर महीने भी कर सकते है।  Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

 

कितने साल तक निवेश करना पड़ेगा ?

यह निवेश आपको कम से कम खाता खोलने के 15 साल तक करना पड़ेगा ।

उसके 6 साल बाद यानी खाता खोलने के 21 साल बाद यह खाता परिपक़्व हो जाएगा।

जिसके बाद आप पूरी जमा राशि निकाल सकते है।  Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

जैसे अगर आपकी बेटी की 5 साल की उम्र के वक्त आपने यह खाता खुलवाया है , तो खाता खोलने से लेकर 15 साल तक निवेश करना होगा।

यानि जब बेटी 20 साल की हो जाए तब तक निवेश करना होगा।

खाता खुलवाने के 21 साल बाद यानि इस स्थिति में बेटी के 26 साल की होने के बाद यह खाता परिपक़्व हो जाएगा।  Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

उस से पहले बेटी की शादी हो जाए तो भी यह खाता बंध किया जा सकता है।

 

अगर किसी साल निवेश न कर पाया तो क्या होगा ?

अगर आप किसी साल नियत राशि जमा नहीं कर पाए तो आपको 50 रुपए प्रति साल का दंड भरना पड़ेगा।

यह दंड निवेश की अगली तारीख को लिया जाएगा।  Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

 

यह खाता में कहा से खुलवा सकता हु ?

इस खाते को खुलवाने के लिए आपको अपने नजदीकी डाकघर या फिर कोई ऑथोराइज़्ड बैंक में जाना होगा।

इन ऑथोराइज़्ड बैंक में

  • एक्सिस बैंक
  • अलाहाबाद बैंक
  • बैंक ऑफ़ बरोड़ा
  • बैंक ऑफ़ इंडिया
  • बैंक ऑफ़ महाराष्ट्र
  • केनरा बैंक  Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi
  • सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया
  • कॉर्पोरेशन बैंक
  • देना बैंक
  • आईसीआईसीआई बैंक
  • आईडीबीआई बैंक
  • इंडियन बैंक
  • इंडियन ओवरसीज बैंक
  • ओरियंटल बैंक ऑफ़ कॉमर्स
  • पंजाब एंड सिंध बैंक  Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • सिंडिकेट बैंक
  • यूको बैंक
  • यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया
  • यूनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया
  • विजया बैंक
  • स्टेट बैंक ऑफ़ पटियाला
  • स्टेट बैंक ऑफ़ बीकानेर एंड जयपुर
  • स्टेट बैंक ऑफ़ ट्रावनकोर  Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi
  • स्टेट बैंक ऑफ़ हैदराबाद
  • स्टेट बैंक ऑफ़ मिसोर
  • स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया

जैसी बैंक शामिल है।

इन सभी में से कोई भी बैंक में जा कर आप यह खाता खुलवा सकते है।

 

कैसे खुलेगा खाता ?

बैंक या डाकघर में जाने के बाद आपको सुकन्या समृद्धि योजना का एक फॉर्म भरना पड़ेगा।

यह फॉर्म कुछ ऐसा होगा।  Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

Sukanya Samriddhi Yojana form in Hindi

इसे आप यहाँ से डाउनलोड कर सकते है।

Sukanya Samriddhi Yojana form in Hindi

इसके साथ आपको बेटी का जन्म प्रमाण पत्र , आपका आधार कार्ड , आपका एड्रेस प्रूफ जैसे कुछ कागजात की जरुरत पड़ेगी।

यह फॉर्म भरके और सभी कागजात जमा कर के आप यह खाता खुलवा सकते है।

 

पासबुक :

 

खाता खुलवाते वक्त जमाकर्त्ता को एक पासबुक दी जाएगी। इस पासबुक में बालिका की जन्म तारीख , खाता खोलने की तारीख ,खाता संख्या (Account Number) , खाता धारक का नाम और पता तथा जमा की गई राशि लिखी होगी।

 

कितने खाते खुलवा सकते है ?

एक बेटी के नाम से सिर्फ एक ही खाता खुल सकता है।

और अगर आपकी एक से ज्यादा बेटीया है तो आप ज्यादा से ज्यादा दो खाते ही खोल सकते है।

लेकिन कुछ संजोगो में तीन खाते खुलवाने की भी मंजूरी है।  Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

जैसे तीन बेटी में से दो बेटिया जुड़वाँ हो तो आप तीन खाते भी खुलवा सकते है।

 

निवेश की राशि का भुगतान कैसे करे ?

आप निवेश की राशि का भुगतान कोई भी तरीके जैसे चेक , डिमांड ड्राफ, ऑनलाइन ट्रांसफर या नकद के रूप में भी कर सकते है।

 

ब्याज कितना मिलेगा ?

इस योजना में मिलने वाला ब्याज हर तीन माह में बदलत रहता है। अभी अप्रेल 2020 यह ब्याज दर 7.6 % है।

जो की किसी भी फिक्स्ड डिपाजिट में मिलने वाले ब्याज से ज्यादा है।  Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

 

इस योजना में कोई टैक्स छूट है क्या ?

जी हा।

इस योजना में आपको तीन तरह से टैक्स छूट मिलती है:

इसमें निवेश की गई राशि , मिला हुआ ब्याज तथा निकाली गई राशि भी सेक्शन 80C के तहत छूट मिलती है।

यानि आप तीनो तरीको से इस पर टैक्स लाभ पा सकते है।

 

इस खाते का संचालन कौन कर सकता है ?

 

इस खाते का संचालन निवेशक कर सकता है।  Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

अगर बेटी चाहे तो 14 साल की होने के बाद खुद ही उस खाते का संचालन कर सकती है।

बेटी के 18 साल की होने के बाद उसे इस खाते का संचालन खुद ही करना पड़ेगा।

 

परिपक़्वता से पहले पैसा निकाला जा सकता है ?

आप निवेश की गई राशि का अधिकतम 50 % ही जब बेटी 18 साल की हो जाए तो उसकी पढाई के लिए निकाल सकते है।

लेकिन अगर 18 साल से 21 साल की होने के बिच में उसकी शादी हो जाए तो यह खाता चलाने की अनुमति नहीं होगी।

लेकिन इसके लिए बेटी के नाम से हफलनामा (Affidavit) देना होगा की खाता बंध करने की तारीख को वह 18 साल से कम की नहीं है।

यदि बेटी की शादी नहीं हुई है तो खाता खोलने के 21 साल पुरे होने के बाद आप पूरी राशि निकाल सकते है।

अगर आप नहीं निकालते तो आपको इस पर ब्याज मिलेगा।

यह ब्याज डाकघर में मिलने वाला सामान्य ब्याज होगा, नाकी इस योजना जितना ब्याज।

अगर किन्ही वजह से बेटी का निधन हो जाए तब यह खता बंध कर सकते है।

अगर इस खाते को चलाने में खाता धारक को अत्याधिक कठिनाई आ रही है, तो कोई गंभीर बीमारी की चिकित्सा के लिए तथा मृत्यु जैसे मामलो में केंद्र सरकार को लेखबद्ध कर के खाता परिपक़्वता से पहले बंध कराया जा सकता है।

 

निवेश की अवधि पूरी होने पर मिलने वाली राशि कैसे पता करे?

अगर आप निवेश की अवधि पूरी होने के बाद की राशि का पता लगाना चाहते है, तो आप किसी SSY calculator का प्रयोग कर सकते है।

मैंने यहा एक ऐंड्रोइड एप ‘Sukanya Samriddhi Yojana ‘ के द्वारा इस योजना में मिलने वाली राशि पता की है।

 

ली गई कुछ धारणाए :

 

निवेश की राशि : 1000 हर महीने Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi
बेटी की जन्म तिथि : 20 अगस्त 2017
योजना शुरू करने की तारीख : 28 मार्च 2019
ब्याज दर : 8.6 % (अभी 7.6% है।)

 

निवेश की राशि इस तरह मिलेगी :

 

1. एप में जरुरी जानकारी दे।

2. मिलने वाली राशि को गिने।

Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

Sukanya Samriddhi Yojna in Hindi

 

Sukanya Samriddhi Yojna in Hindi

 

यहाँ मिलने वाली राशि सिर्फ एक अनुमान है क्युकी इसे गिनते समय ब्याज को सामान ही रखा गया है।

 

जबकि असलियत में ब्याज दर हर तीन महीने में बदलता रहता है।

 

इस तरह आप भी अपनी योजना में मिलने वाली राशि का अनुमान लगा सकते है।

 

क्या में खाता कही पर ट्रान्सफर कर सकता हु ?

जी हा।

 

आप यह खाता भारत में कही पर भी ट्रांसफर कर सकते है।

 

इसके लिए आपको जहा पर आपका खता है वहा पर ट्रांसफर के लिए आवेदन करना पड़ेगा।

 

आप अपना खाता एक डाकघर से दूसरे डाकघर में या किसी बैंक में भी ट्रांसफर कर सकते है।

 

अगर निवेश के बाद बेटी भारतीय रहिवासी न रही तो क्या होगा?

निवेश के कुछ समय बाद बेटी भारत की रहवासी न रहे तो आप को इस के बारे में जानकारी देनी पड़ेगी।

इसके बाद यह खाता बंध कर दिया जाएगा।

और जमा राशि बेटी को या फिर उसके माता पिता या गार्जियन को दे दी जाएगी।

Sukanya Samriddhi Yojana के लाभ क्या है ?

बेटी की शादी और पढाई के लिए अच्छी राशि जमा कर सकते है।

इस योजना में मिलने वाला ब्याज PPF से भी अधिक होता है।

PPF के बारे में जानकारी

सालाना 250 रुपए से भी निवेश कर सकते है। Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

इस योजना में निवेश की गई राशि , मिला हुआ ब्याज और निकाली गई राशि तीनो पर सेक्शन 80C के अंतर्गत टैक्स लाभ मिलता है।

इस योजना का खाता आप  देश में कही भी ट्रांसफर कर सकते है।

 

Sukanya Samriddhi Yojana के नुकसान क्या है?

इस योजना का सबसे बड़ा नुकसान इसका लम्बे समय का लॉक इन समय (21 साल) है।

जरुरत के हिसाब से पैसे नहीं निकाल सकते।  Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

अधिकतम 2 खाते ही खोले जा सकते है, अगर किसी के घर में दो से ज्यादा बेतिया है तो भी सिर्फ दो बेटिओ के खाते ही खोल पाएंगे।

क्या मुझे अपनी बेटी के लिए इस योजना में निवेश करना चाहिए ?

 

यह एक बहुत अच्छी योजना है जिसके जरिए आप अपनी बेटी के लिए अच्छी राशि जमा कर सकते है।

 

लेकिन मेरी राय में आप इस से ज्यादा रिटर्न शेयर बाजार में निवेश कर पा सकते है।

 

हालांकि शेयर बाजार जोखिम भरा है लेकिन 21 साल जितने लम्बे समय तक निवेशित रहने पर सबसे ज्यादा रिटर्न आप वही से पा सकते है।

 

वह रिटर्न इस योजना में मिले हुए रिटर्न से सबसे ज़्यादा होगा। Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

 

लेकिन फिरभी आप शेयर बाजार के जोख़िम को जेल नहीं सकते तो आपके लिए यह बहुत अच्छी योजना है।

 

तो आप इस योजना में अवश्य निवेश कर सकते है।

उम्मीद करता हु दोस्तों की आपको Sukanya Samriddhi Yojana के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी।

अगर आपके आस पास भी ऐसी बच्ची के माता पिता या गार्जियन है जिसकी उम्र 10 साल से कम है तो उन्हें इस योजना के बारे में जरूर बताए।

 

अगर आप शेयर बाज़ार से जुड़ी एसी ही जानकारी की Update free मे चाहते है, तो नीचे दिए गए Blue Color के (Subscribe to Updates) के Button को Click करके जो स्क्रीन खुलेगी उसमे yes का विकल्प select कर दीजिए।

By Gaurav

Gaurav Popat एक निवेशक, ट्रेडर और ब्लॉगर है, जो की शेयर बाज़ार मे बहुत रुचि रखता है। वह साल 2015 से शेयर बाज़ार मे है। पिछले 7 साल मे खुद अलग अलग जगह से सीख कर और अनुभव के आधार पर शेयर बाज़ार और निवेश के विषय मे यहा पर जानकारी देता है।