Demat account meaning in Hindi
    4.6/5 - (5 votes)

    Demat Account Meaning in Hindi

    अगर आप शेयर बाजार में निवेश या ट्रेडिंग करना चाहते है, तो सबसे पहले आपको अपना Demat और
    Trading खुलवाना पड़ेगा।

    यह बात आपने बहुत से लोगो के मुँह से सुनी होगी। लेकिन हमें यह पता नहीं होता की Demat और Trading account क्या होते है। इस लिए आज हम Demat Account के बारे में जानेंगे। Demat account Meaning in Hindi

    Demat Account के बारे में वीडियो के द्वारा जानकारी पाने के लिए आप Fin Baba के इस वीडियो को देख सकते है।

     

    Demat का पूरा नाम (Demat kya hota hai?) :


    Demat का पूरा नाम है, Dematerialized. यानी जिस चीज़ को छुआ न जा सके।

    डीमैट खाता क्या है ? (Demat account Meaning in hindi):


    शेयर बाजार में डीमैट खाते का मतलब है, ऐसा खाता जिसमें आपके शेयर, म्यूचुअल फ़ंड या कोई निवेश की प्रतिभूति रखी जाए।

    ज्यादातर लोग डीमैट खाते का उपयोग शेयर को रखने के लिए ही करते है।

    यहाँ से पढ़े : शेयर बाजार में नुकसान से बचने के टिप्स।

    यह कुछ ऐसा है, जिस तरह आपके बैंक के खाते में आपका पैसा balance के तौर पर होता है।

    इस balance को सीधा तो आप छू नहीं सकते क्युकी वह सिर्फ एक electronic form में होता है।

    लेकिन जब आप बैंक से पैसा नक़द निकालते है, तो उसे छुआ जा सकता है।

    डीमैट खाता क्यू है जरूरी? (Objectives of Demat account in Hindi):

    भारत में 1996 के depository act के बाद से डीमैट खाते की शुरुआत हुई थी।

    इसके पहले जो भी शेयर होते थे वह एक प्रमाणपत्र (certificate) के रूप में आते थे।

    हर एक शेयर के लिए एक सर्टिफिकेट होता था।

    यानि अगर आपके पास किसी कंपनी के 1000 शेयर होते, तो आपके पास 1000 शेयर सर्टिफिकेट होंते।

    अब अगर आपके पास इस तरह की बहुत सी कंपनीओ के शेयर होते तो इतने सारे सर्टिफिकेट को संभाल कर रखना बहुत ही मुश्किल होता था।

    और गुम हो जाने का तथा चोरी हो जाने का भी खतरा रहता था। Demat account Meaning in Hindi

    और जब आपको यह शेयर बेचने होते थे तो इसे खरीददार के नाम पर ट्रांसफर करने में भी समय लगता था।

    इन सभी समस्याओ का समाधान Demat Account के रूप में निकाला गया।

    कौन कौन खुलवा सकता है, डीमैट खाता ?

    18 वर्ष से ऊपर का कोई भी व्यक्ति यहा तक की एक स्टूडेंट भी अगर उसके पास जरूरी कागजात है, वह अपना डीमैट खाता खुलवा सकता है।
     

    डीमैट खाते के लाभ और नुकसान (Advantages and Disadvantages of Demat Account in Hindi) :

    डीमैट खाते के लाभ (Advantages of a Demat Account) : Demat account Meaning in Hindi

     
    • शेयर को चोरी नहीं किया जा सकता।
    • ट्रांसफर करने की प्रक्रिया बहुत आसान और जल्दी हो गई है।
    • कितने भी शेयर को आसानी से रखा जा सकता है।
    • सिर्फ एक शेयर भी ट्रांसफर कर सकते है।
    • ट्रांसफर करने का खर्च कम हो जाता है।
    • बोनस / स्प्लिट जैसी प्रक्रिया में शेयर का अपने आप शेयर अपने आप adjust हो जाते है।
    • गुम होजाने की समस्या नहीं रहती। Demat account Meaning in Hindi
     

    यहाँ से पढ़े : शेयर बाजार में कम जोखिम लेकर पैसा कैसे कमाए ?

    डीमैट खाते के नुकसान (Disadvantages of a Demat Account):

    कोई भी चीज़ के लाभ और नुकसान दोनों होते है, और डीमैट खाते के भी कुछ नुकसान है।

    • आपके ब्रोकर आपके खाते का गलत उपयोग कर सकते है,इस लिए उन पर निगाह रखनी पड़ती है।
    • जब तक डीमैट खाते में कोई भी शेयर है, तब तक उसे बंध नहीं किया जा सकता और तब तक निवेशक को इस से जुड़े चार्ज देने पड़ेंगे।
     

    Demat Account से जुड़े सवाल और उनके जवाब:

    1. डिमेट खाता क्या होता है ?

      जैसे बेंक मे आपके पैसे digital रूप मे जमा होते है, वैसे ही आपके शेयर digital रूप मे डिमेट खाते मे जमा होते है। डिमेट खाता मतलब वह खाता जिसमे आपके शेयर या अन्य सिक्युरिटीस digital रूप मे जमा हो सके।

    2. डिमेट खाता खोलने के लिए कौनसे कागज़ चाहिए?

      डिमेट खाता खोलने के लिए आपका पैन कार्ड, आपका पहचान पत्र (जैसे आधार कार्ड) और आपके बैंक अकाउंट की पासबूक (बैंक अकाउंट link करने के लिए) साथ ही आपकी कुछ फोटोस भी लगेगी।

    निष्कर्ष:

    तो यह था Demat account Meaning in Hindi.उम्मीद करता हु आपको इसके बारे में समझ आ गया होगा।

    दोस्तों अभी Upstox जो की एक Discount Broker है, उसमे Trading और Demat अकाउंट free मे खोलने का offer चल रहा है। 

    तो जल्दी करिए और यहा से जानिए free मे कैसे खुलवाए अपना Demat और Trading Account

    अगर आप शेयर बाज़ार से जुड़ी एसी ही जानकारी की Update free मे चाहते है, तो नीचे दिए गए Blue Color के (Subscribe to Updates) के Button को Click करके जो स्क्रीन खुलेगी उसमे yes का विकल्प select कर दीजिए।

    By Gaurav

    Gaurav Popat एक निवेशक, ट्रेडर और ब्लॉगर है, जो की शेयर बाज़ार मे बहुत रुचि रखता है। वह साल 2015 से शेयर बाज़ार मे है। पिछले 7 साल मे खुद अलग अलग जगह से सीख कर और अनुभव के आधार पर शेयर बाज़ार और निवेश के विषय मे यहा पर जानकारी देता है।