Quarterly Results kya hote hai?
    5/5 - (1 vote)

    Quarterly Results of Companies kya hote hai?

    दोस्तों इस से पहले हमने Fundamental Analysis की Series में बहुत कुछ सीखा।

    इन सब में हमने कंपनीओ के Result के बारे में बात करने के लिए सिर्फ Yearly Results को ही चुना था।

    लेकिन आज हम कंपनी के Quarterly Results की बात करेंगे।

     

    क्या होते है Quarterly Results of Companies ?

     

    कंपनी के Quarterly Results का सीधा मतलब है, कंपनी ने पिछली तिमाही में कितना व्यापार किया।

    यानी अगर कंपनी कोई Manufacturing कंपनी है, तो कितनी चीज़े बनाई और फिर कितनी बेचीं।

    उन पर कितना खर्च हुआ था।

    और यह सब कर के कंपनी ने उस तिमाही में कितना मुनाफा कमाया।

    भारत में हर साल 1 April से नया वित्तीय वर्ष शुरू होता है और अगले साल की 31 March को ख़तम होता है।

    इस पुरे साल को 3 – 3 महीनो के 4 हिस्सों में बांटा गया है।

    इन सभी तीन तीन महीनो के समय को तिमाही कहते है और साल के कुल चार भाग किए गए है, इस लिए उन सभी भागो को Quarter कहा जाता है।

    DurationQuarter Number
    1st April to 30th JuneFirst Quarter (Q1)
    1st July to 30th SeptemberSecond Quarter (Q2)
    1st October to 31st DecemberThird Quarter (Q3)
    1st January to 31st MarchFourth Quarter (Q4)

    हर Quarter के ख़तम होने के बाद कंपनियां अपने उस Quarter के Result पेश करती है।

    इन Results को ही Quarterly Results कहा जाता है।

    यह Results आपको कंपनी की Website और NSE तथा BSE जैसे Stock Exchange की Website पर मिल जाएंगे।

     

    Quarterly Results of Companies का उपयोग क्या है ?

    कंपनी के Quarterly Results के उपयोग से हम यह जान सकते है, की किस Quarter में कंपनी का Result सबसे अच्छा आया और किस में सबसे बुरा आया।

    इस से हमें कंपनी के व्यापार के बारे में और ज्यादा जानकारी मिलेगी।

    हमें पता चलेगा की कंपनी का व्यापार Seasonal है या फिर सामान्य है।

    अगर Seasonal है तो किस Quarter में कंपनी का व्यापार अच्छा होता है ?

    इस तरह हम कंपनी के तिमाही दर तिमाही के Results से उसके आने वाली Season में व्यापार का अनुमान लगा सकते है।

    और फिर जब वह Results आ जाए तब उसका विश्लेषण कर सकते है।

    इस जानकारी से कुछ लोग तो Season के अनुसार भी कुछ समय के लिए निवेश करते है।

    जैसे गरमिओ में AC और Cooler जैसे चीज़े बेचने वाली कंपनीओ का व्यापार बढ़ता है, और ठंडी के मौसम में बहुत कम होता है।

    इसका उपयोग कर के वह ठंडी की Season शुरू होते होते ऐसी कंपनीओ के Share कम दाम में खरीद लेते है।

    और गर्मी की Season शुरू होते होते वह शेयर बेच देते है।

    ऐसा कर के भी कुछ लोग कुछ प्रतिशत कमाई कर लेते है।

     

    Quarterly Results Example :

    अब हम DMart के Quarterly Results को देखते है।

    वैसे तो किसी भी कंपनी के Quarterly Results को हम उसकी या फिर BSE और NSE की Website में जाकर देख सकते है।

    लेकिन में आपको एक Website के बारे में बताने जा रहा हु उसका जहा पर आपको कंपनीओ के Quarterly और Yearly Results को देखने और Compare करने में आसानी होगी।

    इस Website का नाम है, Screener.in

    Quarterly Results of Companies

    किसी भी कंपनी के Results, उस से जुडी Updates तथा अच्छी कंपनीओ को खोजने के लिए यह बहुत ही अच्छी Website है।

    और अच्छी बात तो यह है, की इसका Free Version भी उपलब्ध है, जिसमे एक सामान्य निवेशक आसानी से यह सभी चीज़े कर सकता है।

    आने वाले दिनों में हम इसको विस्तार से समझेंगे और जानेंगे की कैसे हम उसकी मदद से अच्छी कंपनियां खोज सकते है।

    लेकिन आज हम सिर्फ D’Mart के Quarterly Results को ही इसमें देखेंगे।

     

    DMart Results in Screener.in :

    यहा पर मैंने Screener.in Website पर DMart का नाम Search किया है।

    quarterly results of companies


    जिसमे आप देख सकते है, की Quarterly Results के निचे पिछले 12 Quarters के Results दिए गए है।

    इस तरह Results को दिखाने से किसी भी व्यक्ति को किसी भी दो Quarter के Results को Compare करने में आसानी होती है।

    ऐसे ही आप किसी भी कंपनी का नाम Search कर के उसके बारे में बहुत सी जानकारी पा सकते है।

    तो दोस्तों यह थी Quarterly Results of Companies के बारे में छोटी सी जानकारी।

    उम्मीद करता हु आप अब आसानी से Quarterly और Yearly Results को Compare कर सकेंगे।

    अब शेयर बाजारMutual Funds और निवेश से जुडी जानकारी सीधे अपने Email पर Free में पाए।

    इसके लिए हमारे Free Weekly Newsletter को जल्दी से Subscribe कर ले।

    Disclaimer : यहाँ पर मैंने D’Mart का नाम सिर्फ उदहारण देने के लिए ही लिया है।

    में कोई वित्तीय सलहकार नहीं हु इस लिए किसी भी कंपनी में निवेश की सलाह नहीं दे रहा हु।

    धन्यवाद।

    अगर आप शेयर बाज़ार से जुड़ी एसी ही जानकारी की Update free मे चाहते है, तो नीचे दिए गए Blue Color के (Subscribe to Updates) के Button को Click करके जो स्क्रीन खुलेगी उसमे yes का विकल्प select कर दीजिए।

    By Gaurav

    Gaurav Popat एक निवेशक, ट्रेडर और ब्लॉगर है, जो की शेयर बाज़ार मे बहुत रुचि रखता है। वह साल 2015 से शेयर बाज़ार मे है। पिछले 7 साल मे खुद अलग अलग जगह से सीख कर और अनुभव के आधार पर शेयर बाज़ार और निवेश के विषय मे यहा पर जानकारी देता है।